अंजलि ने घर से भागकर की थी लव मैरिज: साढ़े 3 साल पति विकास के साथ छिपकर बीताया समय; नॉन-मेडिकल से 12वीं, जाना था विदेश

0
197
Quiz banner

[ad_1]

करनाल13 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

हरियाणा के जिले करनाल के गांव कमालपुरा निवासी 5 वर्षीय जश की हत्या आरोपी अंजलि ने लव मैरिज की थी। उसने 2018 में विकास से शादी की थी। शादी के बाद दोनों ने कोर्ट में अपने परिवार और रिश्तेदारों से जान का खतरा बताते हुए सेफ हाउस लिया। यहां कुछ दिन बिताने के बाद कहीं और छिपकर रहने लगे। वह करीब साढ़े 3 साल छिपकर रहे। इसके बाद हालात सामान्य होने पर दोनों 2021 में अपने गांव कमालपुरा आ गए और यहां रहने लगे।

Advertisement

परिवार के एक सदस्य ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि अंजलि का जन्म करनाल के इंद्री खंड के गांव पिजोखरा में हुआ। अंजलि आजादी की जिंदगी जीने के सपने देखते हुए परिवार की बंदिशों से दूर होना चाहती थी। इसी चाह में अंजलि ने कमालपुरा निवासी विकास उर्फ लवली से प्यार किया। लवली अपनी जिंदगी को विदेशी पैसों की शान-ओ-शौकत में बिताने के सपनों में जी रहा था। नॉन मेडिकल से 12वीं करने वाली अंजलि ने विदेश का वीजा दिखा। यहां पर दोनों के सपनों को सहारा मिल गया।

घर से भागकर मैरिज की थी

अंजलि ने परिवार, समाज और रिश्ते-नाते तोड़ते हुए घर से भागकर विकास से 26 अप्रैल 2018 को कोर्ट मैरिज कर ली। साथ ही कोर्ट में अपने परिवार और रिश्तेदारों से जान का खतरा बताते हुए सेफ हाउस लिया। सेफ हाउस के बाद जान बचाते हुए छिपकर समय बिताया। जैसे-जैसे समय बीता तो उनके अंदर का डर भी कम होता गया। वह इतने सामान्य हो गए कि नवंबर 2021 में अपने गांव कमालपुरा में ही आकर रहने लग गए।

हरियाणा के करनाल जिले के कमालपुरा गांव में जश की हत्या करने वाली अंजलि CID सीरियल देखा करती थी। साइको होने और सीरियल देखकर उसके दिमाग में ऐसी ही घटनाएं चलती रहती थी। जिसके चलते अंजली ने दो बार अपने पति को मारने की योजना बनाई। जब उन्हें डर में अंजाम नहीं दे पाई। सुसाइड करने के तरीकों को खोजती रहती थी। एक बार तो सुसाइड के लिए नश भी काटी। 5 अप्रैल को तो अंजली ने यश की जान ही ले ली।

पूछताछ में बताया कि यश व उसकी बहन के पास खेलने के लिए आए। उसने यश को कार वाला गेट खेलने के लिए दे दिया। यश की बहन का गेम नहीं मिला तो वाे वहां से चली गई। इसके बाद अंजली ने घर का काम निपटाने के बाद कपड़े बदलने के लिए दरवाजा बंद किया। तभी उसको साइको वाला गुस्सा आ गया। इस दौरान उसके हाथ में मोबाइल का चार्जर था। टीवी चला हुआ था। उस चार्जर की तार से उसने जश का गला दबाकर हत्या कर दी। शव का उसी बैड के अंदर छिपा दिया।

हर किसी के साथ घुल-मिल जाती अंजलि

विकास के पास आने के बाद अंजलि अकेली पड़ गई। हंसते, खेलते परिवार के दिन उसके दिमाग में आते, पर तब वो कुछ ना कर पाती। ऐसे में अंजलि अकेले समय में CID सीरियल देखती रहती। जहां पर भी रहती, वहां आसानी से घुलने-मिलने का प्रयास करती। दुख-सुख बंटाती। ऐसा करके वो सामने वाले को खुश करने के साथ-साथ अपनी तनहाई को भी दूर कर पाती।

वर्ष 2020 में विकास एक साल दुबई में भी लगा चुका है। इसके बाद ही अंजलि ने पीटी की। अंजलि ने पीटी तो की, पर उसको वीजा नहीं मिल सका। विकास ने अपने हिस्से की आधा एकड़ जमीन बेच रखी है और रामफल की तरह अमेरिका जाने की तैयार कर रहा है। इस कदम से भले की विकास पैसे कमा लेता, पर अंजलि खुश नहीं थी।

कभी खुद तो कभी पति की लेनी चाही जान

पूछताछ में पुलिस के सामने अंजलि ने बताया कि वो जीना नहीं चाहती है। इसके लिए सुसाइड करने के तरीके खोजती रहती। दो बार तो अपने पति को भी मारने की योजना बनाई, लेकिन हौसला नहीं बना पाई। एक बार हाथ की भी नश भी काट चुकी है।

करीब 20 दिन पहले पानीपत जाते समय हादसा करने के लिए गाड़ी का स्टेरिंग भी घुमा दिया था। 5 अप्रैल को जब जश उसके कमरे में आकर गेम खेल रहा था तो उस समय उसमें अचानक गुस्सा आ गया। हाथ में ली हुई मोबाइल तार से ही उसका गला दबाकर मार डाला।

साइको बीमारी छिपाकर रखी

अंजलि को साइको बीमारी है। यह बात उसने, उसके पति विकास और परिवार ने सबसे छिपाकर रखी। जब भी उसको इस बीमारी के लक्षण दिखते तो कारण पूछने वाले को थायराइड बढ़ा हुआ बताया जाता। ताकि पता चलने पर कोई अंजलि से दूरी ना बना ले।

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here