जिला कष्ट निवारक समिति की बैठक, मंत्री ने सुनी शिकायतें: अगली बैठक से पहले बीमा कंपनी से नाम दुरुस्त करवा किसानों को मुआवजा देने और सेक्टर-13 के लोगों को इन्हांसमेंट दिलवाने के निर्देश

0
293
Quiz banner

[ad_1]

  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Hisar
  • Bhiwani
  • Before The Next Meeting, Get The Name Corrected From The Insurance Company, Give Compensation To The Farmers And Get Enhancement To The People Of Sector 13.

भिवानी31 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
बैठक में श्रम एवं रोजगार मंत्री अनूप धानक के समक्ष परिवाद नंबर-2 के बारे में बताती महिलाएं। - Dainik Bhaskar

बैठक में श्रम एवं रोजगार मंत्री अनूप धानक के समक्ष परिवाद नंबर-2 के बारे में बताती महिलाएं।

Advertisement

श्रम एवं रोजगार मंत्री अनूप धानक ने बैंक अधिकारी काे निर्देश दिए कि गांव तिगड़ाना की जगह दिनोद लिखना बैंक अधिकारी या कर्मचारी की गलती है, न कि किसान की। इससे किसान को नुकसान उठाना पड़ रहा है। उन्होंने बैंक अधिकारियों को निर्देश दिए कि आगामी बैठक तक वे फसल बीमा कंपनी से संपर्क कर नाम दुरूस्त करवाएं, यदि आगामी बैठक तक नाम दुरूस्त नहीं किया जाता है तो संबंधित बैंक अधिकारी या कर्मचारी के खिलाफ पुलिस में मुकदमा दर्ज करवाया जाएगा। मंत्री शुक्रवार काे सीएम विंडो पर लंबित मामलों में गांव तिगड़ाना निवासी भंवर लाल की सुनवाई कर रहे थे।

भंवर लाल ने शिकायत की थी कि 2018 में मेरी व सत्यवान की धान की फसल खराब हुई थी। फसल का मुआवजा भी तैयार किया गया था, लेकिन मेरी व सत्यवान की भूमि तिगड़ाना माैजा की जगह माैजा दिनाेद के साथ लगा दी, जिसके कारण हमें मुआवजा नहीं मिल रहा। मंत्री ने इस मामले में उप पुलिस अधीक्षक मुख्यालय को भी जांच के निर्देश दिए हैं।

पंचायत भवन में शुक्रवार को संपन्न जिला लोक संपर्क एवं कष्ट निवारण समिति की बैठक में कुल 15 मामले रखे गए जिनमें से 8 परिवादों का निपटारा किया गया। शेष सात मामलों के समाधान के लिए श्रम एवं रोजगार मंत्री ने प्रशासनिक व संबंधित अधिकारियों के अलावा जिला लोक सम्पर्क एवं कष्ट निवारण समिति के सदस्यों की जिम्मेदारी लगाई। बैठक में विधायक घनश्याम दास सर्राफ, डीसी आरएस ढिल्लो, एडीसी राहुल नरवाल, एएसपी हितेष यादव, सीईओ जिला परिषद कुशल कटारिया, सिटीएम विजय कुमार यादव, मनीष कुमार फौगाट, जगदीशचंद्र, सुरेश कुमार, शंकर धूपड़ व विजय गोठड़ा के अलावा विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

जानिए… किस परिवाद में क्या रहा

1. नरेंद्र गांव खरकड़ी माखवान के मामले में श्रम एवं रोजगार मंत्री अनूप धानक ने डीएसपी मुख्यालय को मामले की पड़ताल करने के निर्देश दिए।

2. मनीषा दादरी गेट ढाणा रोड के मामले की सुनवाई के दौरान पुलिस अधिकारियों ने बताया कि इस केस में अभी ब्रेन मैपिंग जांच रिपोर्ट नहीं आई है, जोकि गुजरात से आनी है।

3. शत्रुघन पुत्र चंद्रमण निवासी गांव संडवा के बिजली पोल से संबंधित मामले में बिजली निगम के अधिकारियों ने बताया कि इस शिकायत का समाधान कर दिया गया है और शिकायतकर्ता संतुष्ट है।

4. देवनगर निवासी सोमबीर व बलवान आदि द्वारा उनके क्षेत्र में बूस्टर निर्माण की मामले में अधिकारियों ने बताया कि जमीन उपलब्ध नहीं होने के कारण वहां पर बूस्टर का निर्माण नहीं करवाया जा सका है। जमीन मिलते ही बूस्टर का निर्माण करवाया दिया जाएगा।

5. गांव हालुवास निवासी कर्मबीर के परिवाद पर अभियंता जन स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि पाइप लाइन से संबंधित समस्या दूर कर दी गई है।

6. गांव चैहड़कलां निवासी अनिल कुमार के मामले में अधीक्षक अभियंता लोहारू जल सेवाएं ने बताया कि बजट की डिमांड भेजी गई है, बजट आते ही बकाया वेतन का भुगतान कर दिया जाएगा।

7. गांव कुड़ल ओमप्रकाश व राजेन्द्र आदि समस्त धानक समाज द्वारा रखे गए चौपाल से संंबंधित परिवाद पर मंत्री ने एसडीएम लोहारू को निर्देश दिए कि वे इस मामले को गंभीरता से लेते हुए 10 दिन के अंदर रिपोर्ट जिला प्रशासन के समक्ष प्रस्तुत करें।

8. स्थानीय रेजीडेंट वेलफेयर एसोसिएशन सेक्टर-13 के प्रधान रामकिशन शर्मा द्वारा रखी गई सेक्टर की सीवरेज संबंधित समस्याओं को गंभीरता से लेते हुए श्रम एवं रोजगार मंत्री ने कार्यकारी अभियंता जनस्वास्थ्य विभाग और लोक सम्पर्क एवं कष्ट निवारण समिति सदस्य एवं पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष नंदराम धानिया व सुनील वर्मा नंबरदार की भी ड्यूटी लगाई कि वे हुडा द्वारा करवाए जा रहे जा कार्यों के बारे में पता लगाएं कि क्या वास्तव में कार्य किया भी जा रहा है या नहीं। इसी प्रकार से मंत्री अनूप धानक ने हुडा अधिकारियों को निर्देश दिए कि आगामी बैठक तक सेक्टर-13 निवासियों की एन्हांसमेंट से संबंधित राशि का भुगतान करवाना सुनिश्चित करें। रामकिशन शर्मा ने मंत्री को बताया कि हुडा में जगह-जगह सीवर जाम हैं और बरसाती पानी की निकासी का उचित प्रबंध नहीं है।

9. राजबीर कौशिक निवासी गांव सैय के बिजली चोरी से संबंधित मामले में श्रम एवं रोजगार मंत्री ने एडीसी की अध्यक्षता में एक कमेटी का गठन किया, जिसमें कष्ट निवारण समिति सदस्य कमल फौजी और विजय शेखावत को भी शामिल किया। कमेटी आगामी बैठक तक यह पता लगाए कि परिवादीगण में लगाए गए बिजली चोरी के मामले में कितनी सच्चाई है। यदि बिजली चोरी साबित नहीं होती है तो आगामी कार्रवाई की जाएगी।

10. गांव केलंगा निवासी रामकिशन, अजय व रणजीत द्वारा रखे गए अवैध निर्माण से संबंधित परिवाद की सुनवाई पर श्रम एवं रोजगार मंत्री ने जिला प्रशासन को इसमें स्टे आदेश जारी करने के निर्देश दिए।

11. गांव खेड़ी दौलतपुर के समस्त ग्रामवासियों के परिवाद पर बिजली निगम के अधिकारियाें ने बताया कि इस शिकायत का निपटारा कर दिया गया है।

12. दीन दयाल सोनी हालुवास गेट का नगर परिषद से संबंधित मामला आगामी बैठक तक लंबित रखा गया है।

13. बीर सिंह शिमली बास का मामला डीसी के हवाले किया गया।

14. बैठक में गांव ओबरा निवासी विरेंद्र सिंह के मामले का समाधान किया गया। बैठक में रखे गए परिवादों के अलावा भी श्रम एवं रोजगार मंत्री अनूप धानक ने लोगों की समस्याएं सुनी और उनका मौके पर ही समाधान किया। उन्होंने कहा कि नागरिकों के समक्ष किसी भी प्रकार की कोई समस्या नहीं आने दी जाएगी।

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here