पानीपत के पति-पत्नी विवाद में आया नया मोड़: बीवी ने भाइयों से कराया गन प्वाइंट पर अपहरण; मारपीट करके फेंककर फरार, मारने की धमकी दी

0
198
Quiz banner

[ad_1]

पानीपत10 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

हरियाणा के पानीपत शहर के बहुचर्चित पति-पत्नी का आपसी विवाद अब दूसरा रूप ले चुका है। गुरुवार को कहानी में उस समय नया मोड़ आ गया, जब शहर की अग्रसेन कॉलोनी से दो गाड़ियों में सवार होकर आए कुछ लोगों ने पति का अपहरण कर लिया। आरोप है कि उसे गाड़ी में इधर-उधर घुमाया और इस दौरान मारपीट की गई। हथियारों के बल पर धमकाया। बाद में आरोपी उसे घर के सामने फेंक कर फरार हो गए।

Advertisement

आरोपी पीड़ित की पत्नी के ही भाई थे, जिन्होंने बहन के कहने पर यह किया था। पीड़ित को उपचार के लिए अस्पताल में दाखिल करवाया गया। वहीं मामले की सूचना पाकर पुलिस अस्पताल पहुंची व घायल के बयान दर्ज करके 4 आरोपियों के खिलाफ नामजद केस दर्ज कर लिया। थाना में भारतीय दंड संहिता की धारा 148, 149, 323, 324, 364 व शस्त्र अधिनियम की धारा 25-54-59 के तहत केस दर्ज किया गया है।

पुलिस ने भी किया महिला को समझाने का प्रयास

अग्रसेन कालोनी निवासी 36 वर्षीय संदीप पुत्र रोशन लाल ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसकी शादी दिसम्बर 2013 में हुई थी। शादी के कुछ समय बाद ही पत्नी ने उसके खिलाफ दहेज उत्पीड़न व मारपीट कर केस दर्ज करवा रखा है। उसने भी अदालत में तलाक का एक केस दायर किया हुआ है।

बुधवार 13 अप्रैल को दोपहर बाद करीब पौने 2 बजे पत्नी बेटे के साथ उसके मकान पर आई और दरवाजा खोलने के लिए कहा। युवक का आरोप है कि पत्नी ने यह कहते हुए दरवाजा खोलने को कहा कि वह घर के अंदर आकर जहर की गोलियां खाकर अपनी जान दे देगी व उसे और उसके परिवार को जेल में डलवाएगी।

पत्नी के इरादों को देखते हुए उसने दरवाजा नहीं खोला, बल्कि डायल 112 पर पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने भी पत्नी को काफी समझाने का प्रयास किया कि अगर वह घर में जाना चाहती है तो कोर्ट से आदेश लेकर आए। पुलिस ने महिला को वहां से जाने के लिए कहा, लेकिन उसने जाने से मना कर दिया और लगातार धमकी देती रही कि वह घर के गेट पर ही दम तोड़ देगी।

युवक का आरोप है कि महिला ने मीडिया को बुलाकर उस पर झूठे व गलत आरोप लगाए और जानबूझ कर वीडियो वायरल करवाया। पत्नी रात भर उसके मकान के सामने बेटे सहित रही और देर रात ढ़ाई बजे घर के सामने ईंटें लगाकर दीवार पर चढ़ने का प्रयास किया।

जब उसने इसके लिए मना किया तो उस पर ईंटें फेंक कर मारी गईं और गेट की ग्रिल से चुन्नी अटका कर फंदा लगाने का प्रयास किया। उसके द्वारा रोके जाने पर ईंटों से प्रहार किया गया।

दो गाड़ियों में सवार होकर आए थे लड़के के ससुराली

पीड़ित का आरोप है कि पत्नी ने फोन करके मायके से अपने भाइयों को बुलाया। दो गाड़ी हुंडई वेन्यू व क्रेटा में कुछ युवक आए, जिनके हाथों में डंडे, पिस्तौल, चाकू आदि थे। उसका साला संदीप पिस्तौल, नरेश चाकू और मामा ससुर बबलू डंडा लिए हुए था, जबकि अन्य को वह नहीं जानता। आते ही सबने मिलकर उसके साथ मारपीट की और उसे गाड़ी में डालकर चल पड़े।

उसकी बुआ का लड़का दिनेश व मामा शिवकुमार भी मौके पर थे, लेकिन आरोपियों के हथियारबंद होने के चलते वे कोई मदद नहीं कर सके। पीड़ित का आरोप है कि उसे गोली मारकर नहर में फेंकने की धमकी दी गई। आरोपी उसे इधर-उधर घुमाते रहे और मारपीट करते हुए। कुछ देर तक यहां वहां घुमाने के बाद आरोपी उसे कॉलोनी में ही फेंक गए। दिनेश व शिव कुमार ने उसे सिविल अस्पताल में दाखिल करवाया है।

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here