पानीपत में उत्तराखंड STF की छापामारी: 1 साल से फरार इनामी बदमाश दबोचा; चोरी के बाद राजस्थान के मेवात में गाड़ी बेच देता था गिरोह

0
247
Quiz banner

[ad_1]

पानीपत14 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

हरियाणा के पानीपत जिले में गांव शाहपुर से उत्तराखंड STF ने छापा मारकर एक साल से फरार चल रहे इनामी बदमाश को दबोच लिया है। यह बदमाश दिल्ली-एनसीआर सहित उत्तराखंड में लग्जरी गाड़ियां चोरी करने वाले गिरोह का सदस्य है। आरोपी को पकड़ने के लिए एसटीएफ द्वारा स्थानीय पुलिस का सहयोग भी लिया गया।

Advertisement

आरोपी की पहचान अंकित पुत्र सुरेश निवासी माजरा पियाऊ थाना नारनौंद जिला हिसार हरियाणा के तौर पर हुई है। उत्तराखंड पुलिस द्वारा उस पर 5 हजार रुपए का इनाम घोषित किया गया था। गिरोह के चार अन्य सदस्यों को पहले ही पुलिस टीम गिरफ्तार करके जेल भेज चुकी है। आगामी कार्रवाई के लिए उत्तराखंड पुलिस आरोपी को अपने साथ ले गई है।

गैंग के चार सदस्यों को एसटीएफ कर चुकी पहले गिरफ्तार

एसटीएफ टीम के उप निरीक्षक उमेश कुमार ने बताया कि वांछित एवं इनामी अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए उत्तराखंड पुलिस द्वारा विशेष अभियान चलाया जा रहा है। थाना हरिद्वार क्षेत्र के अंतर्गत देवरपुरा से पिछले साल अप्रैल माह में एक फॉर्च्यूनर कार UK08AP-6600 चोरी हो गई थी। इसके संबंध में थाना में 29 अप्रैल, 2021 को केस दर्ज किया गया था।

पुलिस द्वारा चोरीशुदा फॉर्च्यूनर गाड़ी की बरामदगी एवं अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए प्रयास तेज कर दिए गए थे। पुलिस ने इस केस में वाहन चोर गिरोह से जुड़े जलाल, अजरूदीन, अब्दुल मजीद व नीरज को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया था, जबकि इस गैंग का एक सदस्य अंकित लगातार फरार चल रहा था।

बदमाश बोला: गाड़ियों के लॉक तोड़ने का सॉफ्टवेयर चीन से ढाई लाख में खरीदा था
एसटीएफ के इंचार्ज इंस्पेक्टर प्रदीप कुमार राणा को सूचना मिली कि फरार उक्त शातिर बदमाश अंकित थाना इसराना जिला पानीपत हरियाणा क्षेत्र में छिपकर रह रहा है। प्रभारी स्पेशल टास्क फोर्स, उत्तराखण्ड द्वारा कांस्टेबल अनूप भाटी, कांस्टेबल संजय कुमार व कांस्टेबल देवेंद्र की टीम बनाई गई, जिसे आरोपी के गिरफ्तारी के लिए पानीपत भेजा गया। टीम ने इसराना थाना पहुंचकर स्थानीय पुलिस से सहयोग मांगा।

दोनों पुलिस टीमों ने संयुक्त तौर पर कार्रवाई करते हुए 5000 रुपए के इनामी बदमाश अंकित को गांव शाहपुर थाना इसराना जिला पानीपत से गिरफ्तार कर लिया। शुरुआती पूछताछ में अंकित ने बताया कि उसका गैंग केवल फॉर्च्यूनर गाड़ी ही चोरी करता है। उनके गैंग ने गाड़ी के लॉक को तोड़ने के लिए एक सॉफ्टवेयर, जिसकी कीमत ढ़ाई लाख रुपए है, को ऑनलाइन चीन से मंगाया था। चोरी करके गाड़ी राजस्थान के मेवात में में बेच देते थे।

आरोपियों के खिलाफ यह मामले भी दर्ज

1. आरोपी व उसके साथियों के खिलाफ थाना हरिद्वार उत्तराखंड में केस नम्बर 506/21 धारा 379,411,420,465,120बी के तहत दर्ज

2. थाना सेक्टर-10 गुरुग्राम हरियाणा में केस नम्बर 465/19 धारा 379, 411 के तहत दर्ज है।

3. थाना सेक्टर-40 गुरुग्राम हरियाणा में केस नम्बर 214/20 धारा 379, 411 के तहत दर्ज है।

4. थाना सेक्टर-29 गुरुग्राम हरियाणा में केस नम्बर 603/19 धारा 379, 411 के तहत दर्ज है।

5. थाना पंजाबी बाग दिल्ली में केस नम्बर 112/19 धारा 379, 411 के तहत दर्ज है।

6. थाना सोनीपत हरियाणा में केस नम्बर 128/21 धारा 379, 411 के तहत दर्ज है।

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here