पानीपत में ठेकेदार की हत्या: समालखा की है वारदात; लेनदेन के विवाद का निपटान करने के बहाने ले गए थे घर से, मौत से पहले घर सूचना दी थी

0
270
Quiz banner

[ad_1]

पानीपतएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक
मृतक सतनाम की फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar

मृतक सतनाम की फाइल फोटो।

Advertisement

हरियाणा के पानीपत जिले के समालखा कस्बे में रुपयों के विवाद में एक ठेकेदार की हत्या कर दी गई। हत्या का आरोप मृतक के तीन नामजद परिचितों समेत पांच पर लगाया गया है। पुलिस ने मृतक के भाई की शिकायत के आधार पर पांच के खिलाफ हत्या समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज कर लिया है।

वहीं, मामले में पुलिस ने तीनों नामजद आरोपियों को हिरासत में भी ले लिया है। एक आरोपी को भी चोट लगी है, जिसे इलाज के लिए पुलिस सुरक्षा के बीच सिविल अस्पताल दाखिल करवाया गया है। पुलिस मामले की आगामी कार्रवाई में जुट गई है।

सिविल अस्पताल में उपचाराधीन आरोपी मनोज।

सिविल अस्पताल में उपचाराधीन आरोपी मनोज।

कर्जबंद आरोपी ने रची हत्या की साजिश
समालखा थाना पुलिस को दी शिकायत में रमेश ने बताया कि गांव धर्मगढ़ ने बताया कि वे चार भाई है। बड़ा भाई सतनाम (35) था। जोकि JCB मशीन से मिट्टी उठाने का काम करता था। सतनाम ने मनोज पुत्र हरिसिंह निवासी पावटी को शेरा गांव में मिट्टी दिलवाई थी। जिसके पैसे मनोज ने देने बकाया थे।

जब भी सतनाम मनोज से पैसे मांगता तो मनोज उसे धमकी देता रहता था। एक दिन मनोज घर भी पहुंचा और वहां भी सभी परिजनों को जान से मारने की धमकी दी। 15 अप्रैल की दोपहर करीब 11 बजे सतनाम को मनीष पुत्र बलवान निवासी समालखा मनोज के साथ हिसाब किताब करवाने के लिए समालखा लेकर गया था।

सुनसान रास्ते पर शव को फेंक आरोप भाग निकले थे
शाम को सतनाम की उसके साले रवि के साथ फोन पर बात हुई थी। बातचीत के दौरान सतनाम ने बताया था कि उसे मनोज, मनीष निवासी समालखा व कर्मबीर निवासी जौरासी गाड़ी में लेकर समालखा में इधर उधर घूमा रहे है। रवि ने यह बात रमेश को बताई। उसने सतनाम के फोन पर बात करना चाही तो सतनाम का फोन स्विच ऑफ था।

इसके बाद परिजन सतनाम की तलाश करते हुए समालखा आ गए। जहां उसे प्रवीन व सोनू निवासी समालखा मिले तो प्रवीन ने रमेश को बताया कि मेरे पास भी सतनाम का फोन आया था, वे भी सतनाम की तलाश करते हुए जौरासी गांव के खेतों में पहुंचे। जहां पर मनोज, कर्मबीर, मनीष व अन्य दो व्यक्ति सतनाम को गाड़ी नंबर HR60G-0378 में डालकर भाग गए।

जिनका पीछे किया गया। पीछा करने के दौरान आरोपी हनुमान मंदिर के पास भापरा रोड पर सतनाम को गाड़ी में ही छोड़ कर फरार हो गएा। सतनाम को सिविल अस्पताल ले पहुंचे। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here