राजेंद्र वाल्मीकि के बेटे की गोली मारकर हत्या: 3 साथी गंभीर रूप से घायल; शादी समारोह में आए थे चारों; जानू पर पहले भी हुआ था हमला

0
369
Quiz banner

[ad_1]

यमुनानगर44 मिनट पहले

जानू, जिस पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसाई गईं।

Advertisement

हरियाणा के यमुनानगर जिले में वाल्मीकि समाज के नेता राजेंद्र वाल्मीकि के पुत्र जानू की गोली मारकर हत्या कर दी गई है। वारदात शुक्रवार देर रात अंजाम दी गई। एक विवाह समारोह में दोस्तों संग आए जानू पर पैलेस के बाद 10 से ज्यादा युवकों ने अंधाधुंध फायरिंग की। जानू के सिर में गोलियां लगीं। गिरने के बाद भी हमलावर उसे गाेलियां मारते रहे। जानू के तीन साथियों रजत, अनमोल व एक अन्य को भी गोलियां लगी हैं।

मौके से 10 खोल हुए बरामद
घायल युवक निजी अस्पताल में उपचाराधीन हैं। वहीं फायरिंग की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और तलाशी के दौरान घटनास्थल से 10 खोल बरामद हुए। एक मैगजीन भी मिली है।

30 दिसंबर 2021 को भी हुआ था हमला
जानू पर 30 दिसंबर 2021 को भी दो बाइक सवार युवकों ने गोलियां चलाई थीं। वह घटना दशमेश कॉलोनी में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई थी, जिसमें हमलावर भागते हुए नजर आए थे। इसके बाद परिजनों ने आरोपियों के नाम भी पुलिस को दिए थे, लेकिन पुलिस ने उस संबंध में कोई गिरफ्तारी नहीं कर पाई।

बड़े भाई की संदिग्ध हालात में हुई थी मौत
25 अप्रैल 2020 को राजेंद्र वाल्मीकि के बड़े बेटे रमण वाल्मीकि की जिला जेल में संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। मौत से 3 दिन पहले ही रमण ने एक मामले में थाना में आत्मसमर्पण किया था। न्यायालय ने उसे जिला जेल भेज दिया गया था। राजेंद्र वाल्मीकि ने जेल पुलिस प्रशासन पर अपराधियों से मिलीभगत के आरोप लगाए थे, जिसकी जांच अभी तक की जा रही है।

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here