सख्ती और लापरवाही: क्रॉप कटिंग में गड़बड़ी करने वालों को अंदर ठोकेंगे, कृषि मंत्री 2 माह पहले जांच में दोषी मिले अफसरों पर डीसी ने नहीं की कार्रवाई

0
339
Quiz banner

[ad_1]

फतेहाबादएक घंटा पहलेलेखक: विष्णु नाढोड़ी

  • कॉपी लिंक
मार्केट कमेटी कार्यालय में आयोजित बैठक के दौरान बीच में बोलते विधायक दुड़ाराम को रोकते कृषि मंत्री जेपी दलाल। - Dainik Bhaskar

मार्केट कमेटी कार्यालय में आयोजित बैठक के दौरान बीच में बोलते विधायक दुड़ाराम को रोकते कृषि मंत्री जेपी दलाल।

Advertisement

शुक्रवार को फतेहाबाद पहुंचे कृषि मंत्री जेपी दलाल ने अनाज मंडी में खरीद कार्य का निरीक्षण कर मार्केट कमेटी कार्यालय का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान कृषि मंत्री ने अधिकारियों से गेहूं खरीद व लिफ्टिंग की जानकारी। वहीं बीते दिन ही मार्केट कमेटी के सचिव व एक्सईएन के बीच हुए विवाद पर मंत्री ने एक्सईएन को फटकार लगाते हुए कहा कि मुझे विभाग में ऐसा तमाशा नहीं चाहिए, खुद को सुधारो नहीं तो कार्रवाई करूंगा।

जिले में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में फसल खराब व क्रॉप कटिंग में हुई गड़बड़ी पर मंत्री ने कहा कि गड़बड़ी करने वाले सभी अधिकारियों व कर्मचारियों को अंदर ठोकेंगे। लेकिन सच यह है कि फसल बीमा योजना में गड़बड़ी की जांच में दोषी मिले कृषि विभाग के अफसरों पर डीसी ने पिछले 2 महीने से कोई कार्रवाई नहीं की है।

किसानों ने लगाए थे बरसात से हुए 80% नुकसान को 20 फीसदी दिखाने के आराेप

यहां बता दें कि गांव जांडली के किसानों द्वारा कृषि विभाग के अफसरों पर बीमा कंपनी से मिलीभगत कर उनकी फसलों में बरसात से हुए 80 फीसदी नुकसान को 20 फीसदी दिखाने तथा क्रॉप कटिंग रिकॉर्ड के अलावा अन्य खेतों में करने के आरोपों के बाद विकास एवं पंचायत मंत्री देवेंद्र बबली ने डीसी को मामले की जांच करवाने के आदेश दिए थे। इस मामले में एसडीएम की जांच में कृषि विभाग व बीमा कंपनी के 3-3 अफसर दोषी मिले थे। लेकिन प्रशासन ने अब तक मंत्री को यह रिपोर्ट नहीं भेजी है।

एसडीएम बोले: क्रॉप कटिंग में मिली थी गड़बड़ी, डीसी को भेज चुके जांच रिपोर्ट

एसडीएम राजेश कुमार ने शुक्रवार को कृषि मंत्री को प्रैस वार्ता के दौरान बताया कि क्रॉप कटिंग में जिले में गड़बड़ी पाई गई है तथा इसकी जांच रिपोर्ट डीसी को काफी पहले भेजी जा चुकी है। बता दें कि एसडीएम की जांच में कृषि विभाग के बीएओ कृष्ण कुमार, एडीओ उमेद सिंह, सुपरवाइजर रामनिवास तथा बीमा कंपनी के आदेश कुमार, बिट्टू व कुलदीप दोषी मिल चुके हैं। इसके अलावा विभाग के एक और एडीओ देवेंद्र पाल का नाम भी इसमें शामिल बताया जा रहा है।

फार्म बदल खराबा 20 फीसदी कर फर्जी हस्ताक्षर करने के थे आरोप

गांव जांडली के किसान सुनील, ईश्वर व अन्यों ने आरोप लगाए थे कि बरसात से उनकी खराब हुई फसल का जो सर्वे किया गया था उसमें उस समय 80 फीसदी खराबा दिखाया गया था, लेकिन बाद में उप कृषि निदेशक कार्यालय में उनके फार्म बदल दिए गए तथा खराबा 20 फीसदी कर उनके फर्जी हस्ताक्षर कर दिए गए थे। इस मामले की जांच खुद डीडीए ने ही कर खंड अधिकारियों को दोषी बता दिया।

मंत्री बोले : चीफ को भेजूंगा यहां, नहीं मानूंगा सिफारिश

दो दिन पहले कमेटी सचिव व एक्सईएन के बीच हुए विवाद में एक्सईएन कार्यालय ने अपने एक कर्मी से एसपी को सचिव के खिलाफ शिकायत दिलवाई हुई है। इसका पता लगने पर मंत्री ने कहा कि यह ठीक नहीं है, कोई भी तमाशा किया तो नुकसान में रहोगे, फिर मैं किसी की सिफारिश नहीं सुनूंगा, तुम्हारा काम इंजीनियरिंग का है वही करो।

बैठक में अनावश्यक बोले विधायक को मंत्री ने रोका

मंडी के निरीक्षण उपरांत मार्केट कमेटी पहुंचे मंत्री के साथ विधायक दुड़ाराम मौजूद थे, विधायक बार-बार मंत्री को सभी अधिकारियों का परिचय करवा रहे थे तथा बैठक के दौरान खरीद व सचिव-एक्सईएन विवाद पर जब मंत्री अधिकारियों से जानकारी ले रहे तो दुड़ाराम बीच में अपनी बात रख रहे थे, इस पर मंत्री ने विधायक को 3 बार बोलने से रोका।

जानिए… दौरे के दौरान कृषि मंत्री ने अधिकारियों को क्या दिए निर्देश

  • सरसों खरीद करने वालों से टैक्स भरवाया जाए, एसडीएम को भट्टू मंडी का दौरा करने के निर्देश।
  • एक सप्ताह में गेहूं की लिफ्टिंग 50% होनी चाहिए जो अब 21 फीसदी है।
  • नई अनाज मंडी की चारदीवारी का एस्टीमेट बनाने, मंडी में दुकानें बनवाने के निर्देश ताकि मंडी को इनकम हो सके।
  • पुरानी मंडी में नए शैड का एस्टीमेट बनवाने और खराब सड़कों की मरम्मत के निर्देश।
  • संबंधित एक्सईएन को अनाज मंडी में लाइट व्यवस्था ठीक करने को कहा।

छुट्टी पर हूं, वापस आकर कार्रवाई करूंगा : डीसी

गांव जांडली में फसल खराबा व क्रॉप कटिंग में जांच में गड़बड़ी पाई गई है, इसमें दोषी मिले कृषि विभाग व बीमा कंपनी के अफसरों की रिपोर्ट अब तक कैबिनेट मंत्री देवेंद्र बबली को नहीं दी गई है तथा ना ही पुलिस को मामला दर्ज करने के लिए शिकायत भेजी है, मैं छुट्टी पर हूं, वापस आकर कार्रवाई करूंगा।’‘ -प्रदीप कुमार, डीसी।

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here