हसनपुर में प्रिंसिपल और टीचर करा रहे नकल: फ्लाइंग टीम बोली- हसनपुर में प्रिंसिपल और टीचर करा रहे नकल, दो यूएमसी बनाए, बच्चों से बरामद पर्ची को प्रिंसिपल ने छीनने का किया प्रयास

0
205
Quiz banner

[ad_1]

  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Rohtak
  • Jhajjar
  • Flying Team Bid Principal And Teacher Are Copying In Hasanpur, Made Two UMCs, The Principal Tried To Snatch The Slip Recovered From The Children

झज्जर42 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
सुनील दत्त - Dainik Bhaskar

सुनील दत्त

Advertisement

हरियाणा शिक्षा बोर्ड द्वारा ली जा रही 12वीं बोर्ड की कॉमर्स की परीक्षा में शुक्रवार को क्षेत्र के हसनपुर सीनियर सेकंडरी स्कूल में बवाल खड़ा हो गया। यहां चेकिंग के लिए आई फ्लाइंग टीम ने बोर्ड चेयरमैन को मैसेज दिया कि इस स्कूल में दो बच्चे नकल करते हुए पकड़े गए हैं और नकल कराने में स्कूल प्रिंसिपल और कॉमर्स के लेक्चरर भी शामिल हैं। इस सूचना पर बोर्ड चेयरमैन डॉ. जगबीर सिंह समूचा काम छोड़ सीधे भिवानी से आए और मामले की जांच की। हालांकि फ्लाइंग टीम के इस आरोप के बाद स्कूल प्रिंसिपल और लेक्चर के खिलाफ देर रात तक कोई कार्रवाई नहीं की गई, जबकि नकल करते दोनों बच्चों के खिलाफ यूएमसी केस बनाया गया है।

हुआ यूं कि शुक्रवार काे 12वीं के कॉमर्स विषय का पेपर था। फ्लाइंग टीम ने जब यहां दौरा किया तो एक लड़के और एक लड़की से नकल की पर्ची बरामद कर ली। इसकी सूचना मिलने पर स्कूल प्रिंसिपल सुनील दत्त और कॉमर्स के लेक्चरर कैलाश चंद्र मौके पर आए। फ्लाइंग टीम का आरोप है की स्कूल प्रिंसिपल ने उनसे वह नकल की पर्ची छीनने का काम किया जो बच्चों से बरामद की गई थी और साथ ही यूएमसी भी नहीं बनाए जाने का दबाव डाला। चेयरमैन जगबीर ने जिला शिक्षा अधिकारी बीपी राणा से भी इस बारे में बातचीत की और इस मामले को तुरंत प्रभाव से चेक करने के आदेश दिए।

प्राचार्य : दाेनाें प्रवासी परिवारों के बच्चे, फ्लाइंग टीम से माफ करने का निवेदन किया था प्रिंसिपल सुनील दत्त की छवि सरकारी स्कूलों की छवि सुधारने में जिले भर में मशहूर
हसनपुर राजकीय सीनियर सेकंडरी स्कूल के प्रिंसिपल सुनील दत्त की छवि जिले भर में सरकारी स्कूलों की दशा और दिशा सुधारने के लिए मानी जाती है। सुनील दत्त ग्रामीणों के सहयोग से स्कूल की बिल्डिंग से लेकर यहां शैक्षणिक माहौल को बेहतर बनाने के लिए जाने जाते हैं। हसनपुर स्कूल से पहले वह माछरौली सीनियर सेकंडरी स्कूल में प्रिंसिपल थे।

यहां उनकी अगुवाई में न सिर्फ स्कूल की बिल्डिंग का विस्तार हुआ बल्कि छात्र संख्या में इजाफा हुआ। स्कूल जिले भर में इको फ्रेंडली के रूप में भी पहचान रखने लगा। यहां तक कि जब सुनील दत्त का इस स्कूल से ट्रांसफर किया गया तब ग्रामीणों ने भी बहुत विरोध किया। अब हसनपुर स्कूल में भी प्रिंसिपल यहां शैक्षणिक माहौल को सुधारने में काम कर रहे हैं।

सोशल मीडिया पर मामला आने के बाद एसपी डीसी के भी फोन पहुंचे डीईओ के पास
मामला सोशल मीडिया पर चलने और बोर्ड चेयरमैन तक पहुंचने के बाद इस मामले में प्रिंसिपल लेक्चरर के खिलाफ क्या कार्रवाई हो रही है इसकी अपडेट एसपी और डीसी ने भी जिला शिक्षा अधिकारी बीपी राणा से फोन करके ली। हालांकि इस मामले में डीईओ ने अभी कुछ भी कहने से इनकार कर दिया।

खानपुर खुर्द में रद्द हुआ हिंदी का पेपर 22 को झज्जर में होगा : हरियाणा शिक्षा विभाग की एक अपडेट के अनुसार बीते दिनों 8 अप्रैल को हुए 12वीं के हिंदी के पेपर में खानपुर खुर्द का बी -1 सेंटर यहां नकल होने की आशंका के चलते रद्द कर दिया गया था। अब यह पेपर 22 अप्रैल को झज्जर के सीनियर सेकंडरी स्कूल बी-1 में होगा।

दैनिक भास्कर ने जब प्रिंसिपल सुनील दत्त से बात की तो उनका कहना था कि उनके स्कूल में 12वीं कक्षा में कॉमर्स के सिर्फ 10 बच्चे हैं। 11वीं क्लास में 6 बच्चे हैं। ये बच्चे भी लोगों के लगातार संपर्क में रहने के बाद स्कूल में स्टडी कर रहे हैं और जब इनमें से 2 बच्चों के पास नकल की पर्ची मिली तब उन्होंने फ्लाइंग टीम से सिर्फ यही निवेदन किया था कि इन बच्चों के यूएमसी केस न बनाकर माफ कर दिया जाए। यह प्रवासी मजदूर परिवारों के बच्चे हैं। फ्लाइंग टीम ने उनकी इसी रिक्वेस्ट को यह मान लिया कि वे भी बच्चों की नकल करवाने में शामिल हैं। ये आरोप गलत हैं कि टीम के सदस्य से नकल की पर्ची छीनी।

हसनपुर स्कूल में शिक्षा बोर्ड की फ्लाइंग के द्वारा स्कूल प्रिंसिपल और लेक्चरर के खिलाफ नकल कराने संबंधी मामले की सूचना तो मिली थी लेकिन इस मामले में बोर्ड के द्वारा संबंधित स्कूल स्टाफ के खिलाफ कोई भी शिकायत नहीं दी गई है।-दीपक कुमार, प्रशिक्षु आईपीएस अधिकारी और प्रभारी थाना सदर

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here