हिसार में ABPO का रिश्वत लेते VIDEO वायरल: अग्रोहा ब्लॉक में मनरेगा में मेट से लिए 2000 रुपए; वीडियो समेत विजिलेंस को भेजी शिकायत

0
223
Quiz banner

[ad_1]

हिसार8 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

हरियाणा के हिसार में बिना रिश्वत के तो अब मजदूरों को काम भी नहीं मिल रहा। अग्रोहा ब्लॉक के ABPO के एक वायरल वीडियो और विजिलेंस को भेजी शिकायत पर गौर करें तो, यही सामने आया कि रिश्वत की राशि जेब में आने से पहले कोई काम नहीं होने वाला। वायरल वीडियो (भास्कर वीडियो की सत्यता की पुष्टि नहीं करता) में एक व्यक्ति को रुपए लेकर जेब में डालता दिखाई दे रहा है। कुल 3 वीडियो वायरल है, जिसमें अलग-अलग गतिविधि और 10 हजार रुपए तक रिश्वत की बात सुनाई पड़ रही है।

Advertisement

हर बार रिश्वत की मांग

हरियाणा विजिलेंस ब्यूरो के महानिदेशक को भेजी शिकायत में हिसार के तहसील मंडी आदमपुर के गांव भाणा के सोनू पुत्र रिछपाल ने अग्रोहा ब्लॉक के ABPO पर कार्रवाई की मांग की है। सोनू ने कहा कि वह मनरेगा में मेट के पद पर कार्य करता है। मनरेगा के कार्यों की मंजूरी लेने खंड अग्रोहा के ABPO मनरेगा अधिकारी के पास जाना पड़ता है। उपरोक्त अधिकारी मनरेगा के कार्यों की मंजूरी देने के एवज में मुझसे हर बार रिश्वत की रकम मांगता है।

वीडियो के साथ विजिलेंस को दी गई शिकायत की प्रति।

वीडियो के साथ विजिलेंस को दी गई शिकायत की प्रति।

कहीं नहीं हो रही सुनवाई

सोनू का आरोप है कि रिश्वत न देने पर उपरोक्त अधिकारी द्वारा कार्यों की मंजूरी नहीं दी जाती। वह एक गरीब परिवार से संबंध रखता है और मनरेगा में कार्य करके अपने परिवार का पालन-पोषण करता हूं। वह इस अधिकारी को रिश्वत देने के पक्ष में नही हूं। वह कई बार इस अधिकारी द्वारा रिश्वत मांगने के बारे में सक्षम अधिकारी को बता चुका है, लेकिन कहीं भी सुनवाई नहीं हो रही है।

रिश्वत देते की वीडियो बनाई

विजिलेंस में भेजी शिकायत में कहा गया है कि ABPO की ओर से उसको स्पष्ट कहा गया है कि अगर मुझे पैसे नही दोगे तो मैं तुम्हारा कार्य नहीं करूंगा। सोनू ने कहा है कि उसने उपरोक्त अधिकारी को 2 हजार रुपए देते वक्त अपने मोबाइल फोन से वीडियो रिकार्डिंग भी कर रखी है। उसने विजिलेंस से मांग की है कि ABPO के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज करके तुरंत गिरफ्तार करें।

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here